Sunday, 16 August 2020

महेंद्र सिंह धोनी की जीवनी हिंदी में | Mahendra Singh Dhoni Biography in Hindi

महेंद्र सिंह धोनी का जीवन परिचय ( Mahendra Singh Dhoni Biodata  in Hindi ) -

नमस्कार दोस्तों,  जैसा कि आप सब जानते हैं  की भारत में क्रिकेट को धर्म की तरह माना जाता है. भारत में क्रिकेट को इतनी बुलंदियों तक ले जाने में भारत में कई महान क्रिकेट खिलाड़ियों ने क्रिकेट की दुनिया में जो योगदान किया है  उसी  क्रिकेट के प्रति समर्पण से आज भारतीय क्रिकेट को सफलता के उच्चतम शिखर  तक पहुँचाया है. भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज़ महेंद्र सिंह धोनी उन्ही महान खिलाड़ियों में से एक है. भारत के लोग इन्हें एम.एस.धोनी एवं माही  के नाम से भी बुलाते हैं. आज के इस पोस्ट में हम आप लोगों को महेंद्र सिंह धोनी के जीवन के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं तो आप शुरू से लेकर लास्ट तक बने रहिए हमारे इस पोस्ट के साथ.



महेंद्र सिंह धोनी का प्रारंभिक जीवन Mahendra Singh Dhoni  Intial Life) -

महेंद्र सिंह धोनी का जन्म  झारखण्ड  की राजधानी रांची (पूर्व में बिहार) में 7 जुलाई सन 1981 को हुआ था. इनके  पिता का नाम पान सिंह धोनी जो एक स्टील बनाने वाली कंपनी (मेकॉन) में काम करते थे, वहीँ  इनकी माता का नाम देवकी धोनी है. महेंद्र सिंह धोनी का एक बड़ा भाई जिसका नाम नरेन्द्र सिंह धोनी और एक बहन भी है जिसका नाम जयंती धोनी है. धोनी के भाई का नाम नरेन्द्र सिंह धोनी तथा बहन का नाम जयंती गुप्ता है .क्रिकेट का जुनून महेंद्र सिंह धोनी के अंदर बचपन से ही था. पिता की बहोत  डांट के बावजूद माही क्रिकेट खेलते रहते थे. वो क्रिकेट को लेकर इतने जुनूनी थे कि जरूरत पड़ने पर वह रात के अंधेरे में भी प्रैक्टिस किया करते थे. स्कूल में पढ़ने के दौरान भी वह क्रिकेट खेलते थे. एक समय वह भी था कि वह एग्जाम देने जाते और एग्जाम के तुरंत बाद उन्हें मैच खेलने के लिए मैदान पर जाना होता.

धोनी एक मध्यमवर्गी परिवार से थे. उन्होंने अपनी शुरुआती शिक्षा रांची के जवाहर विद्या मंदिर स्कूल से पूर्ण की. इसके बाद धोनी 12 वीं कक्षा की पढ़ाई करने के बाद इन्होंने सेट.ज़ेवियर कॉलेज में दाखिला लिया. इन्ही दिनों धोनी का मन पढाई से ज्यादा क्रिकेट में लगने के कारण धोनी को अपनी पढ़ाई के साथ समझौता करना पड़ा और इन्होंने अपनी पढ़ाई को बीच में ही छोड़ दिया.

दोस्तों आपको बता दें कि बचपन में धोनी को  क्रिकेट से नहीं बल्कि फुटबॉल खेलना पसंद था, लेकिन  इनके कोच दिग्विजय सिंह ने इन्हें क्रिकेट खेलने के लिए प्रेरित किया. क्योकि धोनी फुटबॉल टीम में एक गोलकीपर की भूमिका निभाते थे. बस इसी को  देखकर उनके कोच ने उन्हें क्रिकेट में एक विकेट कीपर के रूप  में क्रिकेट टीम में रख लिया.

धोनी ने सन  2001-2003 में धोनी पहली बार कमांडो क्रिकेट क्लब की ओर से खेलने उतरे और उस मैच में वहां पर उनकी विकेट कीपिंग को देखकर वहां उपस्थित सभी लोगों ने उनके विकेटकीपिंग की सराहना की.बस यहीं से महेंद्र सिंह धोनी का क्रिकेट खेलना शुरू हुआ. इसके बाद सन 2003 में धोनी ने खडकपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन टिकट कलेक्टर के पद पर काम किया.




महेंद्र सिंह धोनी का क्रिकेट कैरियर- (Mahendra Singh Dhoni Cricket Career) -

महेंद्र सिंह धोनी ने अपने  क्रिकेट कैरियर  की शुरुआत सन 1998 में बिहार अंडर-19 टीम के साथ  की. उसके बाद 1999-2000 आते - आते  धोनी ने बिहार रणजी टीम से खेलना शुरू कर दिया. धोनी के द्वारा सबसे पहले देवधर ट्रॉफी, दिलीप ट्रॉफी और इंडिया “ए” में केन्या दौरे  में किये गए प्रदर्शन को देखकर चयन समिति ने उन पर ध्यान देना शुरू कर दिया.

इसके बाद सन  2004 में एक टीम चयन समीति के बैठक में उस वक़्त के भारतीय टीम के कप्तान सौरव गांगुली से पुछा गया आप अपनी टीम में विकेट कीपर के तौर पर किसे खिलाना चाहेंगे, उस वक़्त  सौरव गांगुली ने कहा  कि, मैं महेंद्र सिंह धोनी को अपनी टीम में विकेट कीपर के रूप में खिलाना चाहते हैं.

इसके बाद ही एम. एस धोनी ने 2004 में  बांग्लादेश के खिलाफ चिट्टगाँव में अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला.  आपको बता दें कि धोनी ने अपने पहले मैच में 0 रन पे आउट हो गए थे लेकिन फिर भी कप्तान सौरव गांगुली को उनपर पूरा भरोसा था. इसके बाद धोनी ने पाकिस्तान के खिलाफ 148 रन की धुआंदार पारी खेलकर अपने कप्तान के भरोसे को एकदम सही साबित कर दिया. इसके बाद श्रीलंकाई टीम भारत का दौरा करने आयी जिसमे जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में एक बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम ने जीत हासिल की जिसमे महेंद्र सिंह धोनी ने ताबड़तोड़ 183 रन बनाकर श्रीलंकाई टीम के जबड़े से मैच को भारत के पक्ष में कर दिया. बस इसी मैच के बाद से धोनी की पूरी दुनिया में खूब वाहवाही हुई और दुनिया भर के क्रिकेट प्रेमी धोनी को जानने लगे. उसके बाद से लेकर अब तक महेंद्र सिंह धोनी क्रिकेट में एक 16 साल का  लम्बा रास्ता  तय कर चुके है.



महेंद्र सिंह धोनी ने अपने कैरियर  में धोनी 90 टेस्ट चुके हैं जिसमें उन्होंने 4876 रन बनाये हैं. जहाँ तक टेस्ट में उनके उच्चतम स्कोर की बात है तो धोनी ने अपने टेस्ट कैरियर का सबसे विशाल पारी चेन्नई में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 224 रन बनाये. वहीँ  टेस्ट में महेंद्र सिंह धोनी ने एक विकेटकीपर के रूप में 256 कैच और 35 स्टम्पिंग की है.


धोनी ने अब तक 350 एकदिवसीय मैचों में 10,773 रन बना चुके हैं जो किसी भी भारतीय विकेटकीपर द्वारा बनाया गया सबसे अधिक रन है . महेंद्र सिंह धोनी ने अपने वनडे क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठ पारी 2005 में जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में श्रीलंका के खिलाफ खेली, इस मैच  में धोनी ने 183 रन की मैच जिताऊ पारी खेली. इस मैच में धोनी ने वन-डे में 183 रन बनाकर एडम गिलक्रिस्ट का विकेट कीपर के तौर पर सबसे ज्यादा रन बनाने के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया. धोनी ने इस मैच में श्रीलंका के खिलाफ एक वन डे पारी में 10 छक्के मारे,जो की उनकी यह पारी  सबसे ज्यादा छक्को के मामले में छठे नंबर पर आती है.

सुरेश रैना का जीवन परिचय हिंदी में | Suresh Raina Biography in Hindi

दोस्तों महेंद्र सिंह धोनी ने अपने अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट कैरियर की शुरुवात मे 23 दिसंबर 2004 को शुरुआत टीम में एक विकेटकीपर बल्लेबाज़ के हैसियत से  किया और इसके ठीक 3 साल बाद  धोनी 2007 तक भारतीय टीम के कप्तान बन गए. दोस्तों इतनी जल्दी धोनी भारतीय टीम का नेतृत्व करेंगे उस वक़्त शायद ये किसी ने नहीं सोचा होगा. 

जहाँ तक एकदिवसीय मैचों में उनके विकेटकीपिंग की बात है तो वन डे  321 कैच पकड़े और 123 स्टम्पिंग की है .दोस्तों एक महत्वपूर्ण बात और है धोनी बारे में वो ये कि महेंद्र सिंह धोनी के नाम पर इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे तेज़ स्टम्पिंग करने का रिकॉर्ड भी इन्ही के नाम  है. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक मैच में मिशेल मार्श की  गिल्लियां मात्र 0.76 सेकंड में उड़ा दी थी जो की आज भी एक विश्व रिकॉर्ड हैं. अगर भारतीय विकेटकीपर की नजर से देखें तो एक इंडियन  विकेट कीपर के द्वारा विकेट के पीछे सबसे ज्यादा शिकार करने का रिकॉर्ड भी धोनी के नाम ही है.

धनश्री वर्मा ( युजवेंद्र चहल मंगेतर ) जीवनी हिंदी में | Dhanashree Verma Biodata in Hindi

वर्ष 2005 में महेंद्र सिंह धोनी को श्रीलंका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम में लिया गया .  उन्होंने 30 रन बनाए. उसी सीरीज में इन्होंने श्रीलंका के खिलाफ अर्धशतक जमाकर  टीम को जीत दिलाने में सफल रहे. इसके कुछ महीने बाद सन 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ हुए सीरीज  में भी उन्होंने काफी अच्छा प्रदर्शन किया. इसके बाद धोनी को सन 2008 में भारतीय टीम में उप कप्तान के तौर पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ  सेलेक्ट  किया गया. इस सीरीज में भारत की टीम ने एकजुट होकर बहुत बढ़िया प्रदर्शन किया  जिसके फलस्वरूप टीम जीतने में कामयाब रही. इसी सीरीज के बाद ही उस समय के भारतीय टीम के कप्तान अनिल कुंबले के रिटायर होने के बाद धोनी को कप्तानी सौंप दी  गई. धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के ही खिलाफ सन 2014-15 में हुए सीरीज के बाद अचानक उन्होंने टेस्ट से सन्यास लेने का फैसला करके पुरे क्रिकेट जगत को आश्चर्य में डाल दिया.

वैसे भी  मैच को अपने अंदाज़ में फिनिश करने  के लिए धोनी दुनियभर  में मशहूर हैं. भारत माता का यह लाल  भारत के लिए सबसे पहले 2007 में टी-20 विश्वकप, इसके बाद  2011 का वन-डे विश्वकप , 2013 का  चैंपियंस ट्राफी भारत को जितवाकर पूरी दुनिया में अपने कप्तानी का लोहा मनवा लिया.




महेंद्र सिंह धोनी का पूरा परिचय ( Mahendra Singh Dhoni full Details)-

पूरा नाम (Real Name)             महेन्द्र सिंह धोनी

निकनेम (Nickname)               एमएसडी, माही

जन्म स्थान (Birth place)         रांची( झारखण्ड), भारत

जन्म तारीख (Date of Birth)    7 जुलाई 1981

शैक्षिक योग्यता (Educational)  12 वीं कक्षा पास

पिता का नाम (Father)                पान सिंह धोनी 

माता का नाम (Mother)              देवकी धोनी 

कुल भाई बहन (Sibling)             दो, (1 भाई और 1 बहन )

बहन (Sister)                              जयंती गुप्ता

भाई (Brother)                            नरेंद्र सिंह धोनी 

पत्नी का नाम (Wife/ Spouse)    साक्षी सिंह रावत

बच्चे (Children)                         जीवा (लड़की)

पेशा (Profession)                       भारत के पूर्व कप्तान एवं विकेटकीपर बल्लेबाज़ 

टीम में भूमिका (Role)               विकेटकीपर और बल्लेबाज

बल्लेबाजी शैली (Batting Style) दाहिने हाथ के बल्लेबाज

बॉलिंग शैली (Bowling Style)   दाहिने हाथ के मध्यम गेंदबाज

आईपीएल की टीम (IPL)           चेन्नई सुपर किंग्स

लंबाई (Height)                        5 फीट 9 इंच

बालों का रंग (Hair Colour)      काला और सफेंद

आंखो का रंग (Eye Color)        भूरा

वजन (Weight)                       70 किलो

कुल संपत्ति (Net Worth)        लगभग  700 करोड़




महेंद्र सिंह धोनी की बायोपिक (Mahendra Singh Dhoni Biopic Movie) - 

दोस्तों महेंद्र सिंह धोनी भारत के साथ दुनियाभर के क्रिकेट लवर्स के बीच इतना अधिक लोकप्रिय हो गए की वर्ष 2016 में उनके जीवन के ऊपर एक बायोपिक भी बन चुकी है जिस फिल्म का नाम ( एम एस धोनी- द अनटोल्ड स्टोरी )  है. इस फिल्म में  दिखाया गया है कि अपने क्रिकेट करियर के शुरुवाती दिनों में धोनी कोई प्रियंका झा नाम की लड़की से  रिलेशनशिप में थे. लेकिन एक कार दुर्घटना में प्रियंका का एक्सीडेंट हो जाता है और उनका यह रिलेशनशिप बस कुछ समय ही चल पाता है. उस समय धोनी उस  दुर्घटना के कारण अपने कैरियर पर भी खास ध्यान  नहीं दे  पाते थे. लेकिन इस घटना के कुछ सालों बाद धोनी की मुलाकात साल 2008 में साक्षी सिंह रावत से होती है.  दोस्तों फिल्म एम.एस.धोनी में दिखाया  गया है कि धोनी और साक्षी कोलकाता के एक होटल में मिले थे. लेकिन असल में यह बात सच नहीं है. सच यह है की महेंद्र सिंह धोनी के पिता  पान सिंह और साक्षी के पिता  दोनों एक ही कंपनी में साथ  काम करते थे. इसमें एक और हैरानी की बात  ये है की साक्षी और धोनी एक ही स्कूल में भी पढ़ते थे. लेकिन  जिस वक़्त महेंद्र सिंह धोनी वह स्कूल छोड़ चुके थे ठीक उसी  समय साक्षी सिंह ने स्कूल में एडमिशन लिया था. जिसके कारण  धोनी स्कूल में साक्षी से  मिल नहीं पाए. 

सुशांत सिंह राजपूत की जीवनी हिंदी में | Sushant Singh Rajput Bio data in Hindi

इस वाकये के कुछ समय बाद साक्षी का परिवार रांची छोड़कर उत्तराखंड की राजधानी देहरादून जाकर बस गया. वहां देहरादून में साक्षी के दादी- दादा काफी  पहले से ही रहते थे. 4 जुलाई सन 2010 में महेंद्र सिंह धोनी ने साक्षी से शादी कर ली जिससे सन 2015 में दोनों को एक बेटी ( जिसका नाम जीवा है ) को जन्म दिया.




महेंद्र सिंह धोनी के रिकॉर्ड (Mahendra Singh Dhoni Records) -

कैरियर मैच    रन   उच्चतम    औसत   अर्धशतक    शतक     

टेस्ट    144    4876     224       38.09      33       6        

वनडे    350   10773     183*    50.58      73     10        

T-20     98      1617         5      37.60        2        -        

IPL      190    4432       84      42.21       23        -         


महेंद्र सिंह धोनी को अब तक मिला मैंन आफ द मैच सीरीज और सम्मान-

अब तक महेंद्र सिंह धोनी 6 मैन ऑफ द सीरिज़ जीत चुके हैं वहीं वनडे में 20 मैन ऑफ द मैच अवार्ड प्राप्त कर चुक है. 2 मैन ऑफ द मैच टेस्ट में अच्छे परफॉर्मेंस की वजह से भी मिला है. उन्हें साल 2008 तथा 2009 में आईसीसी प्लेयर ऑफ द ईयर का खिताब भी दिया जा चुका है. उन्हें साल 2007 में राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से भी नवाजा गया है. साल 2009 में भारत सरकार द्वारा उन्हें पद्मश्री से भी सम्मानित किया जा चुका है.


 

 

धोनी ने लिया क्रिकेट से सन्यास (Dhoni Retirement Date, News )-

अनहोनी को होनी करने वाले धोनी ने 15 अगस्त 2020 को शाम 7 बजकर 29  मिनट पर अचानक क्रिकेट से सन्यास लेने का फैसला कर लिया , उनके इस फैसले से पुरे विश्व क्रिकेट के लोग एक बार फिर आश्चर्यचकित  होकर रह गए. 

सुरेश रैना का जीवन परिचय हिंदी में | Suresh Raina Biography in Hind

दोस्तों  भारतीय टीम के पूर्व कप्तान एवं विकेटकीपर बल्लेबाज  महेंद्र सिंह धोनी का  नाम इतिहास के पन्नो पर सुनहरे अक्षरों में लिखा जाना चाहिए. क्योकि उन्होंने जो भारतीय क्रिकेट के लिए किया है ,भारत तथा भारतीय क्रिकेट टीम उनका हमेशा ऋणी रहेगा .वर्तमान समय में शायद ही कोई ऐसा क्रिकेट प्रेमी होगा जो उन्हें न जानता हो. महेंद्र सिंह धोनी सिर्फ भारत में ही नहीं है बल्कि पुरे विश्वभर में बहोत लोकप्रिय हैं. मैदान के अन्दर हो या बाहर वो हमेशा अपने शांत स्वभाव के लिए जाने जाते हैं. क्योकि उन्होंने  बहुत कम समय में भारतीय क्रिकेट को जितना कुछ  दे चुके हैं वो आज तक विश्व का कोई भी खिलाड़ी किसी भी टीम को नहीं दे पाया है.

दोस्तों  चलते - चलते मैं व्यक्तिगत रूप से महेंद्र सिंह धोनी का अच्छा प्रशंसक रहा हू और ये मेरा विश्वास है की महेंद्र सिंह धोनी को भारतीय क्रिकेट इतिहास में कभी भी भुलाया नहीं जा सकेगा. वह एक ऐसे कप्तान थे जिन्होंने अपनी कप्तानी में भारत को टी-20 ,एकदिवसीय वर्ल्ड कप के साथ  आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी भी जिताया. अब उनके जीवन के अगले पारी के लिए मेरी तरफ से ढेर सारी हार्दिक शुभकामनाएं. 


धन्यवाद्.













2 comments


EmoticonEmoticon

>