Saturday, 3 August 2019

समर्पण | Dedication | what is dedication

नमस्कार दोस्तों, खुद की काबिलियत पर संदेह करना मनुष्य की स्वभाविक कमजोरियों में शुमार किया जाता है. मानव जीवन का यह अवगुण उसे अपने जीवन के किसी भी क्षेत्र में  सफलता पाने की राह में सबसे बड़े अवरोध के रूप में काम करता है. क्योंकि जब हम खुद ही अपने सफलता के बारे में विश्वस्त  नहीं होते हैं तो  कामयाबियों  सफर में हम बड़ी तेजी से आगे नहीं बढ़ पाते हैं.
ऐसी दशा में हमारे बढ़े हुए कदम सहसा  ठहर जाते हैं और शिद्दत से देखे  हुए  सपनों का हम खुद ही गला घोंट देते हैं.
                               
दोस्तों  सोच कर देखिए जिस कार्य को आप कर रहे हैं, या करने की योजना बना रहे हैं. उस कार्य के बारे में आपको यह दुविधा सता रही है कि, इस कार्य में आप सफल होंगे भी या नहीं, तो इस प्रकार  इस कार्य में हम अपना अमूल्य समय ही गवा रहे होते  हैं.
इसलिए यह आवश्यक है कि हमें अपने लक्ष्यों या सपनों के प्रति पूरी तरह से समर्पित तथा निष्ठावान होना चाहिए.
और मन में हमेशा यह  अडिग  विश्वास रखना चाहिए कि खुद में अंतर्निहित क्षमता के फल स्वरुप हम अपने प्रयास और प्रयोजन में हम अवश्य ही सफल होंगे.
सच पूछिए तो यहां एक महत्वपूर्ण प्रश्न यह उठता है कि आखिर हमारे जीवन में दुविधा ही उत्पन्न क्यों होती है?
इस सत्य से इंकार करना कदाचित आसान नहीं होगा कि दुविधायें  या संशय  आत्मविश्वास में कमी के कारण उत्पन्न होती है.
जब हमें यह लगता है कि हम जिस लक्ष्य की प्राप्ति के तरफ आगे बढ़ रहे हैं और उसमें सफल होना आसान नहीं है, क्योंकि हमारे अंदर उस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए अनिवार्य योग्यता  का अभाव है तो  इस स्थिति हमारे पैर उस लक्ष्य  में डगमगाने लगते हैं.
हमारा आत्मविश्वास कमजोर पड़ने  लगता है. इस प्रकार  फिर हम उन सपनों को पूरा करने की कोशिश तो करते हैं, किंतु उसके लिए पूरी तरह से समर्पित नहीं हो पाते.
इस प्रकार हमारी संसाधन और बेशकीमती समय बिना किसी उपलब्धि के बर्बाद हो जाते हैं.
इसलिए कहा गया है कि एक बार हम अपने जीवन में जो भी लक्ष्य निर्धारित कर लें  तो फिर उसे प्राप्त होने के बारे में कभी भी किसी भी  इ प्रकार की संदेह या नकारात्मक विचार नहीं करना चाहिए.
हमें खुद की क्षमता में अटूट विश्वास रखना चाहिए और फिर आप देखेंगे कि  आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता है ,परंतु उसके लिए हमें  सबसे पहले सभी आवश्यक सूत्रों  को आत्मसात करना होगा.
तो मित्रों आज का हमारा यह आर्टिकल आपको कैसा लगा , आप हमें कमेंट करके जरुर बताइए . अगर यह आर्टिकल आप लोगों को पसंद आयी हो तो इस आर्टिकल को आप अपने दोस्तों एवं रिश्तेदारों को शेयर जरूर कीजिए .धन्यवाद्.

2 comments


EmoticonEmoticon

>